SMALL CHILDREN STORY IN HINDI :: WEALTH AND SUCCESS ARE BEHIND LOVE

SMALL CHILDREN STORY IN HINDI :: WEALTH AND SUCCESS ARE BEHIND LOVE

*⛲️ प्रेम के पीछे है धन और सफलता (Wealth and success are behind love) ⛲️*


hindi story for children, new stories for kids in hindi, short stories for children in hindi, small children story in hindi, very short stories for kids in hindi, stories for toddlers in hindi, baby story hindi mein, hindi bedtime stories for babies, motivational story for child in hindi, moral stories for childrens in hindi written, kahani for child in hindi, story for nursery kids in hindi, small baby story in hindi, best child story in hindi, bedtime stories for toddlers in hindi
small children story in hindi

एक औरत ने तीन संतों को घर के सामने देखा और उन्हें भोजन के लिए आमंत्रित किया। संत बोले, 'हम सब किसी भी घर में एक साथ नहीं जाते। मेरा नाम 'धन' है। इन दोनों के नाम 'सफलता' और 'प्रेम' हैं। हममें से कोई एक ही भीतर आ सकता है। आप घर के अन्य सदस्यों से मिलकर तय कर लें कि भीतर किसे निमंत्रित करना है।' औरत ने भीतर जाकर अपने पति को यह सब बात बताई। पति प्रसन्न होकर बोला, 'यदि ऐसा है तो हमें धन को आमंत्रित करना चाहिए।' औरत बोली, 'मुझे लगता है कि हमें सफलता को आमंत्रित करना चाहिए।' उनकी बेटी दूसरे कमरे से यह सब सुन रही थी। वह उनके पास आई और बोली, 'हमें प्रेम को आमंत्रित करना चाहिए। प्रेम से बढ़कर कुछ भी नहीं है।' औरत घर के बाहर गई और उसने संतों से पूछा 'आपमें से जिनका नाम प्रेम है वे कृपया घर में प्रवेश कर भोजन ग्रहण करें।' प्रेम घर की ओर बढ़ चले। बाकी के दो संत भी उनके पीछे चलने लगे। औरत ने दोनों से पूछा, 'मैंने तो केवल प्रेम को आमंत्रित किया था?' उनमें से एक ने कहा, 'यदि आपने हममें से किसी एक को आमंत्रित किया होता तो केवल वही जाता। लेकिन आपने प्रेम को बुलाया। प्रेम जहां जाता है, धन और सफलता उसके पीछे-पीछे जाते हैं।'

'हम सब किसी भी घर में एक साथ नहीं जाते। मेरा नाम 'धन' है। इन दोनों के नाम 'सफलता' और 'प्रेम' हैं। हममें से कोई एक ही भीतर आ सकता है। आप घर के अन्य सदस्यों से मिलकर तय कर लें कि भीतर किसे निमंत्रित करना है।'

कथानक का प्रेरणादायक सारांश:


हमें जीवन में सबसे अधिक प्रेम को महत्व देना चाहिए। जिन घर में प्रेम रहता है, वहां सुख, शांति और संपन्नता बनी रहती है। घर में प्रेम बना रहेगा तो व्यक्ति धन संबंधी काम भी अच्छी तरह कर पाएगा।

*सदैव प्रसन्न रहिये।*
*जो प्राप्त है-प्रयाप्त हे।*


Post a Comment

Previous Post Next Post